You are here
Home > राजनीति चौसर > आपका शहर > 3 करोड़ की बिक्री का टारगेट , शहर में लगी है खादी प्रदर्शनी

3 करोड़ की बिक्री का टारगेट , शहर में लगी है खादी प्रदर्शनी

लखनऊ। शहर के जनेश्‍वर मिश्र पार्क में लगी इस प्रदर्शनी में 176 स्टाल हैं, जिसमें भारत के सभी प्रान्तों के खादी एवं ग्रामोद्योग क्षेत्र के उद्यमियों द्वारा अपने उत्कृष्ट उत्पादों का प्रदर्शन एवं बिक्री की जा रही है। कद्रदानों की मांग को देखते हुए खादी एवं ग्रामोद्योग प्रदर्शनी प्रत्येक वर्ष आयोजित की जाती है। पिछले वर्ष भी लखनऊ में प्रदर्शनी का आयोजन किया गया था, जिसमें लगभग 2.50 करोड़ रुपये की बिक्री हुई थी जो अपने आप में एक रिकार्ड है। मुख्य कार्यपालक अधिकारी ने कहा कि इस वर्ष कम से कम 3.00 करोड़ रुपये की बिक्री के लक्ष्य को प्राप्त करना है। 25 नवम्‍बर तक चलने वाली इस प्रदर्शनी में हर रोज अलग-अलग सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जा रहा है।

उप्र खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डा. अखिलेश कुमार मिश्रा ने विभागीय योजनाओं की जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान वित्तीय वर्ष में मुख्यमंत्री ग्रामोद्योग रोजगार योजना में रु. 100 करोड़ का पूंजीनिवेश करते हुए 2000 इकाईयों की स्थापना की जायेगी, जिससे 40000 लोगों को रोजगार उपलब्ध कराया जायेगा, जिसमें से वर्तमान में 15000 लोगों को रोजगार दिया जा चुका है। इसी प्रकार प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के अन्तर्गत रु. 116.83 करोड़ का पूंजीनिवेश करते हुए लगभग 1947 इकाईयों की स्थापना करा कर 15576 व्यक्तियों को वर्तमान वित्तीय वर्ष 2016-17 में रोजगार के अवसर उपलब्ध कराये जाने का लक्ष्य है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री ने खादी संस्थाओं के विगत वर्षों के लम्बित रिबेट की धनराशि रु. 113.60 करोड़ का भुगतान कराया गया तथा वर्तमान वर्ष में रिबेट दावों के भुगतान हेतु धनराशि रु. 20.00 करोड़ की व्यवस्था की गयी है। प्रदर्शनी में स्टाल लगाने वाले लोगों से कहा गया है कि 24 नवम्बर के बाद 25 नवम्बर से शुरू होने वाले लखनऊ महोत्सव में वे अपने स्टाल लगायें ताकि उनकी बिक्री और बढ़े तथा लोगों को भी खादी सामग्री को खरीदने का पर्याप्त अवसर मिल सके।

 

Leave a Reply

Top
%d bloggers like this: