You are here
Home > राजनीति चौसर > विज़न भारत > जिंदगी के तेज़ दौड़ धुप में त्वचा को बचाने के कुछ सरल उपाय – डॉ आस्था गुप्ता

जिंदगी के तेज़ दौड़ धुप में त्वचा को बचाने के कुछ सरल उपाय – डॉ आस्था गुप्ता

निज संवादाता सहारनपुर–  तेज धूप, प्रदूषण, तनाव से बचे और नियमित सन्तुलित आहार और हल्के व्यायाम से त्वचा रोगो बचा जा सकता है यह उदगार प्रख्यात चर्म, सौन्दर्य एवDr Astha Guptaम एलर्जी रोग विशषज्ञा डॉ आस्था गुप्ता ने जनपद के पहले निशुल्क स्किन एवम बालो की जाचॅ शिविर के उदधाटन अवसर पर व्यक्त करते हुए कहा कि आज कल कह भागदौड भरी जीवन मे तनाव बढने से बहुत से बीमारियाॅ फैल रही है, जिसके कारण असमय बालो का गिरना व सफेद होना बालो का टूटना, गॅजापन, तेैलीय त्वचा, चेहरे पर धब्बे पडना, चेहरे की त्वचा बेजान एवम रूखी होना, कील मुहासें, नाखून का कटा फटा निकलना, तिल्ल, मस्सें आदि का होना, इस त्वचा रोगो का सही समय पर उपचार अनिवार्य है डॉ आस्थ गुप्ता का कहना है फॅगल इन्फैक्शन ,स्केबीज और अन्य प्रकार की एलर्जी को रोकने के लिए नियमित रूप से अपने त्वचा रोग विशेषज्ञ से मिले , उपचार से बेहतर है कि सावधानी बरते और साफ सफाई का विशेष ध्यान रखे उन्होने महिलाओ को सुझााव देते हुए कहा कि वह तेज धूप मे अच्छी सनस्क्रीन क्रीम को लगाये क्योकि अल्ट्रा वायलेट किरणो से त्वचा पर सर्वाधिक कुप्रभाव पडता जिससे सनबर्न की समस्या हो जाती है, इसी प्रकार बालो को धना और मजबूत करने के लिए मसाज जरूरी है, तेल लगा कर प्रदूषण भरे माहौल में न जाये, तेज गर्मी और तेज ठन्ड मे निकलने से बचे,। डॉ आस्था ने बताया कि चिकित्सक के सलाह के बिना कोई दवाई न खायें, योग करे, मौसमी फल, हरी सब्जी, पालक , मेथी गाजर बो्रक्ली खाये , निशुल्क शिविर मे डॉ चन्द्रशील चोपडा का विशेष रूप सहयोग रहा। इस अवसर पर डॉ आस्था लोगो को बुखार और बदन दर्द में पारासिटामोल लेने की हिदायत दी साथ ही बाहर के खान-पान न खाने की बात कही उन्होंने कहाँ बाहर के खाने से टाइफाइड होने की सम्भावना बड़ जाती हैं। अपने आसपास के वातावरण को स्वच्छ रखें रुके हुए पानी से मच्छर पैदा होते है उनसे कई बीमारियो का ख़तरा बड़ जाता है साथ ही भविष्य में इस प्रकार के शिविर का आयोजन किया जाता रहेगा।

Leave a Reply

Top
%d bloggers like this: