You are here
Home > राजनीति चौसर > राजधानी लखनऊ > शिया धर्मगुरू ने किया मौलाना अशरफ और मौ. आजमी का समर्थन

शिया धर्मगुरू ने किया मौलाना अशरफ और मौ. आजमी का समर्थन

शिया धर्मगुरू ने किया मौलाना अशरफ और मौ. आजमी का समर्थन

लखनऊ, 05 फरवरी। शिया धर्मगुरू मौलाना कल्बे जव्वाद नकवी ने मौलाना जुनैद अशरफ और मौलाना सईद उर्र रहमान आजमी के बयान का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि मौलाना जुनैद अशरफ ने सिरिया में जनाबे जैनब के रौजे के पास हुए हमले की निंदा की थी और ऐसे विस्फोटों और आत्मघाती हमलों को इस्लाम विरोधी बताया था। मौलाना ने मौलाना सईद उर्र रहमा आजमी नदवी के लेख का समर्थन किया जो अमेरिका विरोधी था और तथ्यों का वर्णन करता है।
शिया धर्मगुरू ने कहा कि उनका लेख तथ्यों का वर्णन करता है, लेकिन आश्चर्यजनक भी है। उन्होंने लिखा है कि अमेरिका में जब सैनिकों को प्रशिक्षण संस्थान प्रशिक्षण में दिया जाता है तो मक्का और मदीना के मॉडल पर उनसे फायरिंग कराई जाती है जिसके बारे में कई बार बयान किया है मगर कई हकीकतें उनके कलम से रह गई हैं। वह फौजी जिन्हें काबा और मदीना के मॉडल पर गोलीबारी द्वारा प्रशिक्षण संस्थान में प्रशिक्षण दिया गया है वहीं सैनिक मक्का और मदीना में सुरक्षा के लिए तैनात हैं। उन्होंने कहा कि इजराइल जिसके मानचित्र में मक्का, मदीना, कर्बला और नजफ जैसे पवित्र स्थान हैं उसके साथ सऊदी अरब की गुप्त बैठक हो रही हैं, जिसमे एक बैठक लखनऊ में भी हुयी है। इसकी निंदा भी जरूर होनी चाहिए। उन्होंने सवाल किया कि आखिर पवित्र स्थानों के दुश्मनों के साथ यह बैठकें क्यों हो रही हैं। अब मुस्लिम उलेमा को इजराइल और सऊदी अरब के अपराध के खिलाफ भी लिखना चाहिए ताकि उनकी हकीकत सामने आ सके।

Leave a Reply

Top
%d bloggers like this: