You are here
Home > राजनीति चौसर > मिज़ाज़-ए-लखनऊ > पर्यटन दिवस मनाने की शुरू हुई परम्परा

पर्यटन दिवस मनाने की शुरू हुई परम्परा

पर्यटन दिवस मनाने की शुरू हुई परम्परा

                            सरकार प्रदेश मंे पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए प्रयासरत: सहगल
लखनऊ, 14 फरवरी। प्रदेश मंे अब 14 फरवरी को पर्यटन दिवस मनाये जाने की परंपरा शुरू की गयी है। सूबे के सभी पर्यटन कार्यालयों में अपने-अपने तरीके से इस दिवस को मनाये जाने के साथ-साथ रविवार को राजधानी लखनऊ में भी पर्यटन दिवस को विशेष तरीके से मनाया गया। तमाम आयोजनों के साथ-साथ पर्यटन विभाग ने ‘लखनऊ बैलून फिएस्टा‘ का भी आयोजन किया, जिसका शुभारम्भ प्रमुख सचिव पर्यटन नवनीत सहगल ने किया।
‘आपका लखनऊ आपका स्लोगन‘ प्रतियोगिता के विजेताओं को इस आयोजन के तहत हाॅट एअर बैलून में सैर करायी गयी। विजेताओं ने चैक स्थित स्टेडियम से हाॅट एअर बैलून में उड़ान भरकर लखनऊ शहर के एरियल व्यू का आनन्द उठाया। स्लोगन प्रतियोगिता का आयोजन प्रदेश के पर्यटन विभाग द्वारा किया गया था।इस अवसर पर प्रमुख सचिव पर्यटन नवनीत सहगल ने बताया कि स्लोगन प्रतियोगिता के माध्यम से अधिक से अधिक संख्या में आमजन को पर्यटन गतिविधियों से जोड़ने की कोशिश की गई है। उन्होंने कहा कि बैलून फिएस्टा जैसे आयोजन सभी आयु वर्ग के लोगों के लिए आकर्षण एवं रोमांच का विषय होते हैं, जिससे पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा मिलता है। ‘लखनऊ बैलून फिएस्टा‘ 16 फरवरी तक चलेगा।
सहगल ने कहा कि राज्य है। यही कारण है कि राज्य सरकार ने पर्यटन दिवस का आयोजन किया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में तमाम ऐतिहासिक सांस्कृतिक धरोहरंे हैं जो पर्यटन के लिहाज से महत्वपूर्ण हैं। सहगल ने बताया कि राज्य सरकार प्रदेश में पर्यटकों को स्तरीय सुविधाएं प्रदान कर रही है। इसी का नतीजा है कि प्रदेश में देशी-विदेशी पर्यटकों की संख्या में काफी वृद्धि दर्ज की गयी है।
इस अवसर पर जिलाधिकारी राजशेखर, पर्यटन विभाग के अधिकारी तथा बड़ी संख्या में रोमांच प्रेमी मौजूद थे।
गौरतलब है कि प्रदेश की संस्कृति, परम्परा और कला को सहेजने के लिए तथा इनके प्रति पर्यटकों में आकर्षण पैदा करने के लिए प्रदेश में पहली बार पर्यटन दिवस का आयोजन किया जा रहा है। इसके तहत ‘लखनऊ बैलून फिएस्टा‘, विंटेज कार रैली, फोटो प्रदर्शनी, फूड फेस्टिवल तथा छतर मंजिल में नवाब वाजिद अली शाह द्वारा लिखित एवं फिल्मकार मुजफर अली द्वारा निर्देशित नाटिका ‘राधा कन्हैया का किस्सा‘ का मंचन किया जायेगा।

Leave a Reply

Top
%d bloggers like this: